Home / Filariasis / फाइलेरिया: Filariasis में फ़ायदा घरेलू उपाय,प्राकृतिक मिनिरल और सप्पलीमेंट के माध्यम से :

फाइलेरिया: Filariasis में फ़ायदा घरेलू उपाय,प्राकृतिक मिनिरल और सप्पलीमेंट के माध्यम से :

फाइलेरिया: Filariasis में फ़ायदा घरेलू उपाय,प्राकृतिक मिनिरल और सप्पलीमेंट के माध्यम से :

हमारी सलाह से मिले हुए फायदे के वीडियो :

फाइलेरिया एक परजीवीजन्य संक्रामक बीमारी है जो धागे जैसे कृमियों से होती है। वैश्विक स्तर पर इसे एक उपेक्षित उष्णकटिबंधीय बीमारी माना जाता है। फाइलेरिया दुनिया भर के उष्णकटिबंधीय और उपोष्णकटिबंधीय देशों में एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या है। जिसमें भारत भी शामिल है। विश्व में लगभग 1.3 अरब लोगों को इस बीमारी के संक्रमण का खतरा है और लगभग 12 करोड़ लोग इससे वर्तमान में संक्रमित हो चुके हैं, जिनमें से लगभग 4 करोड़ लोग इस बीमारी की वजह से किसी विकृति का शिकार हो गए हैं या अक्षम हो चुके हैं

आप इसमें से किसी भी घरेलू उपाय का प्रयोग कर सकते हैं :

 

  1. आंवला में विटामिन सी प्रचुर मात्रा में होता है। इसमें एन्थेलमिंथिंक भी होता है जो कि घाव को जल्दी भरने में बेहद लाभप्रद है। आंवला को रोज खाने से इंफेक्शन दूर रहता है।
  2. फाइलेरिया से निजात के लिए सूखे अदरक का पाउडर या सोंठ का रोज गरम पानी से सेवन करें। इसके सेवन से शरीर में मौजूद परजीवी नष्ट होते हैं और मरीज को जल्दी ठीक होने में मदद मिलती है।

 

प्राकृतिक मिनिरल, आयुर्वेदिक सप्पलीमेंट और घरेलू उपायों  के माध्यम से मुफ्त सलाह देते हैं । आप किसी भी बीमारी से परेशान हैं या डॉक्टर ने आप को जवाब दे दिया हो तो मुफ्त सलाह के लिए हमें संपर्क करें

मुफ्त सलाह के लिये  Call or Whatsapp कर सकते हैं .

पुरूष सलाहकार +91 9082456219  /  +91 9082437094

महिला सलाहकारा +91 9082453184  /  +91 9769508345

मैनेजर संपर्क :+91  9820372965

दिन / समयसोम से शनि  / सबेरे 10 से शाम 6 तक

ऐसी कई जानलेवा बीमारियों में हमारी सलाह से जो फ़ायदा मिला है उसे देखने के लिए इस लिंक पर क्लिक करें : https://www.youtube.com/c/KoharrHealthLLP

 [yotuwp type=”playlist” id=”PLk74TZuUl1ZKsDZ4ZgnodQvFaQZtZu7NF” ]

About Koharr Health

Check Also

Just 5 Days Balance Your Diabetes For Life Time केवल 5 दिनों में जीवन भर …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *